विनय पत्रिका पर वस्तुनिष्ठ प्रश्न

विनय पत्रिका पर वस्तुनिष्ठ प्रश्न


1) तुलसीदास ने विनयपत्रिका की रचना किस उद्देश्य से की है-

स्वान्तः सुखाय
बाहुक पीड़ा से मुक्ति
लोक कल्याण
कलिकाल निवारण✔

🌸🌸🌸🌸🌸
2) “राम के रूप निहारती जानकी कंकन के नग की परछाहीं ” यह पंक्ति किस ग्रंथ से उधृत है

विनयपत्रिका
रामचरित मानस
कवितावली✔
गीतावली

💐💐💐💐💐
3) आचार्य शुक्ल ने तुलसी कृत ग्रन्थों की संख्या माना है

14
15
20
12✔

🎯🎯🎯🎯🎯🎯
4) सुरतिय नरतीय नागतिय, सब चाहती अस होय, यह पंक्ति तुलसीदास ने किसको लिखी थी।

मीरा
रहीम✔
रसखान
स्वयं


🌻🌻🌻🌻🌻🌻
5) विनयपत्रिका की भाषा है

अवधि
ब्रज✔
संस्कृत निष्ठ ब्रज
अपभ्रंश

6) कलि कुटिल जीव निस्तार हित बाल्मीकि तुलसी भयो, किसकी पंक्ति है

नाभादास✔
अग्रदास
प्रियादास
प्राण चंद

7) मातु पिता जग जाई तज्यो , विधिहि न लिख्यो कुछ भाल भलाई, तुलसी के किस ग्रंथ की पंक्ति है।

कवितावली✔
विनयपत्रिका
गीतावली
रामचरितमानस

8) जाके प्रिय न राम वैदेही, सो नर तजिउ कोटि बैरी सम जदपि परम स्नेही’ किस ग्रंथ की पंक्ति है

पार्वती मंगल
जानकी मंगल
विनयपत्रिका✔
रामचरित मानस

9) वेद पुरान प्रकट जस जागै, तुलसी राम भक्ति बर मांगे ” में किसकी स्तुति की गई है।

शिव
हनुमान
सूर्य✔
गणेश

10, “दीनदयालु भगत आरति हर, सब प्रकार समरथ भगवान” में सब प्रकार से समर्थ भगवान किसे कहा गया है।

ब्रह्मा
हनुमान
राम✔
शिव

11) तुलसीदास जाचक जस गावे, विमल भगति रघुपति की पावे ” पंक्ति में किसकी आराधना की गई है।

सूर्य
हरि
शंकर
सीता✔

12) अशुभ इव भांति कल्याण राशि मे अलंकार है

ब्याजस्तुति
ब्याजनिन्दा✔
विप्सा
निदर्शना

13) चांड – मुण्ड क्या हैं?

मतवाले हाथी✔
दानव
भूत प्रेत
खेचर

14) “भूत ग्रह बेताल खग जालिका “में बेताल किसका प्रतीक है।

भूत
जिन्न✔✔
पक्षी
निशाचर

15) काशी स्तुति में काशी की सीमा निर्धारित की गई है

वरुणा और असी नदी की सीमाओं से✔
गाय की सिर से पूंछ तक
गाय के चार पैरों से
पंचकोशी परिक्रमा से
16, राम कहत राम कहत चलु रे भाई ” पंक्ति में अलंकार है

विप्सा
भयदर्शना
स्मरण
निदर्शना✔

17, देखो देखो वन वनयो आज उमाकांत ” संबोधित है

चित्रकूट को
काशी को
पार्वती को
शिव को✔

18 विनयपत्रिका में तुलसीदास ने सूर्य, शिव, पार्वती, हनुमत आदि देवी देवताओं की स्तुति किस रूप में की है।

समर्थ देवता✔
लोक उदार
सद्दी मुसद्दी
राम के उपासक

🌸🌸🌸🌸

प्रातिक्रिया दे