हिन्दी व्याकरण – पर्यायवाची शब्द

( स )

समुद्र- सागर, पयोधि, उदधि, पारावार, नदीश, नीरनिधि, अर्णव, पयोनिधि, अब्धि, वारीश, जलधाम, नीरधि, जलधि, सिंधु, रत्नाकर, वारिधि।
समूह- दल, झुंड, समुदाय, टोली, जत्था, मण्डली, वृंद, गण, पुंज, संघ, समुच्चय।
सरस्वती- गिरा, भाषा, भारती, शारदा, ब्राह्यी, वाक्, जातरूप, हाटक, वीणापाणि, विमला, वागीश, वागेश्वरी।
सुमन- कुसुम, मंजरी, प्रसून, पुष्प, फूल ।
सीता- वैदेही, जानकी, भूमिजा, जनकतनया, जनकनन्दिनी, रामप्रिया।
सर्प- साँप, अहि, भुजंग, ब्याल, फणी, पत्रग, नाग, विषधर, उरग, पवनासन।
सोना- स्वर्ण, कंचन, कनक, सुवर्ण, हाटक, हिरण्य, जातरूप, हेम, कुंदन।
सूर्य- रवि, सूरज, दिनकर, प्रभाकर, आदित्य, मरीची, दिनेश, भास्कर, दिनकर, दिवाकर, भानु, अर्क, तरणि, पतंग, आदित्य, सविता, हंस, अंशुमाली, मार्तण्ड।
सिंह- केसरी, शेर, महावीर, व्याघ्र, पंचमुख, मृगेन्द्र, केहरी, केशी, ललित, हरि, मृगपति, वनराज, शार्दूल, नाहर, सारंग, मृगराज।
सम- सर्व, समस्त, सम्पूर्ण, पूर्ण, समग्र, अखिल, निखिल।
समीप- सन्निकट, आसन्न, निकट, पास।
सभा- अधिवेशन, संगीति, परिषद, बैठक, महासभा।
सुन्दर- कलित, ललाम, मंजुल, रुचिर, चारु, रम्य, मनोहर, सुहावना, चित्ताकर्षक, रमणीक, कमनीय, उत्कृष्ट, उत्तम, सुरम्य।
सन्ध्या- सायंकाल, शाम, साँझ, प्रदोषकाल, गोधूलि।
स्त्री- सुन्दरी, कान्ता, कलत्र, वनिता, नारी, महिला, अबला, ललना, औरत, कामिनी, रमणी।
सुगंधि- सौरभ, सुरभि, महक, खुशबू।
स्वर्ग- सुरलोक, देवलोक, दिव्यधाम, ब्रह्मधाम, द्यौ, परमधाम, त्रिदिव, दयुलोक।
स्वर्ण- सुवर्ण, कंचन, हेन, हारक, जातरूप, सोना, तामरस, हिरण्य।
सहेली- अलि, भटू, संगिनी, सहचारिणी, आली, सखी, सहचरी, सजनी, सैरन्ध्री।
संसार- लोक, जग, जहान, भूमण्डल, दुनियाँ, भव, जगत, विश्व।
सरस्वती- गिरा, शारदा, भारती, वीणापाणि, विमला, वागीश, वागेश्वरी।
सेना- ऊनी, कटक, दल, चमू, अनीक, अनीकिनी।
साधु- सज्जन, भद्र, सभ्य, शिष्ट, कुलीन।
सलिल- अम्बु, जल नीर, तोय, सलिल, पानी, वारि।
सगर्भ- बंधु, भाई, सजात, सहोदर, भ्राता, सोदर।
सगर्भा- भगिनी, सजाता, सहोदर, बहिन, सोदरा।
संकट- आपत्ति, विपत्ति, आफत, मुसीबत, विपदा, दुर्भाग्य, अभाग्य।
संकल्प- विचार, इरादा, चेष्टाहीन, इच्छाशक्ति, कामनाशक्ति, दृढ़-निश्चय, प्रतिज्ञा, व्रत।
संकेत- चिन्ह, निशान, लक्षण, प्रतीक।
संकोच- असमंजस, हिचक, लाज, लज्जा, शर्म।
संक्षिप्त- थोड़ा, अल्प, कम।
संक्षेप-समाहार, सारांश, संक्षिप्त रूप।
संगति- मेल, संग, मिलाप, साथ, सम्बन्ध, मैत्री, दोस्ती।
संगम- मेल, मिलाप, संयोग, संग, साथ, सम्बन्ध, संगति।
संग्रह- एकत्रीकरण, संचय, जवाब, ढेर, समूह, राशि।
संघ- वर्ग, समुदाय, समूह, दल, टोली, भीड़।
संघात- 1. आघात, चोट, मार, टक्कर 2. वध, हत्या, कत्ल।
संचालन- निर्देश, निर्देशन, मार्गप्रदर्शन, प्रेषण।
संजीदा- 1. गंभीर, शांत 2. बुद्धिमान, समझदार, प्रतिभाशाली, अक्लमंद।
संतप्त- दग्ध, पीड़ित, दुखित, व्यथित।
संतान-संतति, वंशज, वंश, औलाद, बाल-बच्चे।
संतुलन- साम्य, साम्यवस्था, समभार, समरसता।
संतोष- संतुष्टि, तसल्ली, धीरज, धैर्य, ढाढ़स, संशयपूर्ण, सांत्वना।
संदिग्ध- संदेहजनक, संदेहास्पद, भ्रमयुक्त।
संधि- 1. मेल, संयोग, समाधान, समझौता 2. गांठ, जोड़, मिलान।
संन्यासी- त्यागी, गोस्वामी, योगी, तपस्वी, एकांतवासी, साधनाशील, संत, साधू, मुनि।
संपूर्ण- पूरा, सारा, समूचा, समस्त, सब, कुल, तमाम, सर्व।
सम्बन्ध- सम्पर्क, वास्ता, नाता, रिश्ता, लगाव, सरोकार।
संबोधन- बुलाना, पुकारना, आह्वान करना।
संभावी- संभावित, संभव, मुमकिन, कल्पनीय, अनुमानित।
संभ्रम- घबराहट, व्याकुलता, बेचैनी, विकलता।
संभ्रांत- सम्मानित, प्रतिष्ठित, भद्र पुरुष।
संयत- नियंत्रित, नियमित, मर्यादित, अनुशासित, शांत, गम्भीर।
संविधान- नियम, कानून, राज्य नियम, कायदा।
संसर्ग- सम्पर्क, लगाव, सम्बन्ध, घनिष्टता, मेल-जोल, मेल-मिलाप।
संसारी- पार्थिव, लौकिक, ऐहिक, इहलौकिक, सांसरिक, दुनियावी।
संसिद्धि- सफलता, कामयाबी, सिद्धि, मनोरथसिद्धि।
संस्थापक- संचालक, जनक, मूलकर्ता, आरंभकर्ता, प्रतिष्ठापक।
संहार- ध्वस्त, नाश, विध्वंस, बरबादी।
सखा- साथी, मित्र, दोस्त, संगी।
सखी- सहेली, सहचरी, संगिनी, अली, आली।
सच- यथार्थ, वास्तविक, सत्य, मिथ्यारहित, सच्चा।
सचमुच- 1. ठीक-ठीक, वास्तव में, वस्तुतः 2. निश्चित रूप से, अवश्य, जरूर, निश्चय ही।
सचाई- सत्यता, वास्तविकता, यथार्थता।
सचेत- 1. समझदार, चतुर, होशियार 2. सजग, सावधान।
सच्चाई- 1. सत्यवादी, सत्यवान, सत्यव्रती, सत्यनिष्ठ, निश्छल, ईमानदार 2. प्रमाणयुक्त, प्रामणिक, वास्तविक, असली।
सज-धज- बनाव-सिंगार, सजावट, शान, दिखावट, आत्मप्रदर्शन, आडम्बर।
सजा- दंड, दंडादेश, दंडाज्ञा।
सज्जन- भला, आदमी, शरीफ, व्यक्ति, महानुभाव, सम्मानित व्यक्ति।
सज्जा- सजावट, सजधज, अलंकरण, बनाव-सिंगार।
सठियाना- बुद्धिलोप होना, मंदबुद्धि होना, मूर्ख होना, मतिभ्रष्ट हो जाना।
सतत- सदा, हमेशा, निरन्तर, लगातार।
सतीत्व- पातिव्रत्य, जितेन्द्रियता, शुचिता, सतीधर्मिता, साध्विता, पतिव्रता।
सत्कार- खातिरदारी, आतिथ्य, मेहमाननवाजी, मेहमानदारी, स्वागत, सम्मान, आदर।
सदन- घर, गृह, मकान, निवास-स्थान, आवास।
सदा- सर्वदा, निरन्तर, सदैव, नित्य, हमेशा, लगातार, हरदम, हरसमय।
सदृश- समान, अनुरूप, तुल्य, बराबर, सम।
सनातन- नित्य, हमेशा, निरन्तर, शाश्वत।
सन्नद्ध- तैयार, उद्यत, प्रस्तुर, तत्पर।
सफल- सार्थक, कारगर, कामयाब, फलीभूत, फलवान।
सभापति- अध्य्क्ष, प्रधान, संचालक, प्रबंधक, चेयरमैन।
सभ्यता- शिष्टता, शिष्टाचार, शीलवत्ता, भद्रता।
समता- साम्य, बराबरी, जोड़तोड़, तुल्यता, अनुरूपता।
समय- 1. बेला, काल, घड़ी, वक्त 2. अवसर, मौका, अवकाश, फुरसत।
समस्त- कुल, सब, सारा, समूचा, सम्पूर्ण।
समान- तुल्य, सम, बराबर, एक-सा, एक-जैसा, एक भाँति।
समाप्ति- संपूर्णता, पूर्णता, समापन, अवसान।
समीक्षा- आलोचना, समालोचना, निरूपण।
सम्मुख- सामने, आगे, प्रत्यक्ष।
सम्राट- महाराजधिराज, बादशाह, शंहशाह, महाराजा, सुलतान, अधिपति।
सरकारी- आधिकारिक, शासनिक, राजकीय, शासकीय, सार्वजनिक।
सरदार- नेता, नायक, अगुआ, मुखिया।
सरल- सीधा, सादा, कोमल, निश्छल, सच्चा, ईमानदार, उदार।
सर्वज्ञ- सर्वज्ञानी, संपूर्णज्ञाता, समूचा, जानकार।
सलाह- सम्मति, राय, परामर्श, विचार-विनिमय।
सलूक- 1. व्यवहार, बरताव, सद्भाव 2. तौर, तरीका, ढंग, सलीका।
सह- सहित, संग, साथ।
सहनशील- क्षमाशील, क्षमावान, धैर्यवान, धीरज।
सहसा- एकाएक, अकस्मात्, झटपट, अचानक।
सहानुभूति- 1. संवेदना, सहभावना, हमदर्दी 2. अनुकंपा, दया, करुणा।
सही- सत्य, यथार्थ, वास्तविक, सच, ठीक, शुद्ध।
सांत्वना- आश्वासन, ढाढ़स, दिलासा, तसल्ली, धीरज।
साँवला- श्याम, नील, श्यामल, काला, कृष्णवर्ण।
साँस- श्वास, श्वसन, निश्वास, दम।
सांसारिक- लौकिक, लोकपरक, ऐहिक, संसारी, दुनियावी।
साग-पात- शाक, भाजी, तरकारी।
साजिश- षड्यंत्र, कुचक्र, कूटप्रबंध, छल, दाँवघात।
सामग्री- सामान, द्रव्य, चीज, वस्तु।
सामर्थ्य- योग्यता, शक्ति, ताकत, बल।
सामान- 1. माल, साज-सामान, सामग्री 2. उपकरण, औजार।
सायंकाल-रजनीमुख, सायं, दिनांत, संध्या, गोधूति, प्रदोषकाल।
साया- छाया, छाँह, परछाई।
सारणी- तालिका, सूची, सूची-पत्र, अनु-क्रमणिका।
सारांश- निष्कर्ष, आशय, तात्पर्य, अभिप्राय, भावार्थ, भाव, मतलब।
साह- 1. व्यापारी, वणिक, महाजन, धनी 2. साहूकार, बनिया, सेठ, रोजगारी।
साहस- हिम्मत, हौसला, जीवट, निर्भयता, बहादुरी।
सिंहासन- राजासन, गद्दी, राजगद्दी, तख्त।
सिकता- बालू, रेत, बालुका।
सिखाना- शिक्षित करना, शिक्षा देना, योग्य बनाना, ट्रेनिंग देना, अनुशासित करना।
सितारा- 1. नक्षत्र, तारा 2. भाग्य, किस्मत।
सिद्ध- निर्विवाद, निश्चित, प्रमाणित, सर्वमान्य, पुष्ट, साबित।
सिफारिश करना-अनुशंसा करना, अनुरोध करना, संस्तुति करना।
सीमित- मर्यादित, निर्धारित, निश्चित, परिसीमित।
सुन्दरता- सौंदर्य, शोभा, छवि, लालित्य, रमणीयता, कांति, हुस्न, खूबसूरती।
सुन्दरी- प्रियदर्शनी, चंद्रमुखी, मृगनयनी, मीनाक्षी, सुलोचना, गोरी, अलबेली, हसीना।
सुकुमार-कोमल, नाजुक, नरम, मुलायम।
सुगंध- महक, सौरभ, सुरभि, खुशबू।
सुगम- सहज, सरल, आसान, सुबोध, सुलभ।
सुबह- सवेरा, भोर, अरुणोदय, प्रभात, प्रातःकाल, भिनसार, विहान।
सुरमा- काजल, अंजन, आँजन।
सुरीला- मधुर, संगीतपूर्ण, मीठा, रसीला।
सुविधाजनक- सुखप्रद, आरामदेह, सुखदायक, सुखकारक, सुविधायुक्त।
सुस्त- आलसी, अकर्मठ, मंद, शिथिल, म्लान, निद्रालु।
सुस्ताना- विराम लेना, आराम करना, दम लेना, रुकना, ठहरना।
सुस्पष्ट- प्रकट, व्यक्त, साफ, सुबोध।
सूखा- निर्जल, जलहीन, जलरहित, रूखा, शुष्क।
सोच- 1. चिंता, फिक्र, दुविधा, संकल्प-विकल्प 2. दुःख, खेद, पछतावा, पश्चाताप।
सौंपना- समर्पण करना, अर्पण करना, समर्पित करना, प्रदान करना।
स्तन- पयोधर, छाती, चूचुक, चूची, स्तन्याशय, उरोज।
स्वार्थी-स्वार्थपरायण, मतलबी, खुदगरज।
स्वावलंबन- आत्मनिर्भरता, आत्माश्रय, स्वाश्रय, अपने पैरों पर खड़ा होना।
स्वीकार- स्वीकरण, मंजूर करना, मान्य होना, मानना, कबूल करना।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.