हिन्दी साहित्य के प्रमुख शोध-प्रबंध

हिन्दी साहित्य के प्रमुख शोध-प्रबंध

धीरेन्द्र वर्मा (1897-1973 ई०)

ला लाँग ब्रज (फ्रेंच भाषा में, 1935 ई०, हिन्दी में अनुवाद- ‘ब्रजभाषा’ नाम से)

बाबू राम सक्सेना (1897-1988 ई०)-

दि इवॉल्यूशन ऑफ अवधी (अंग्रेजी भाषा में, 1938 ई०, हिन्दी में अनुवाद-‘अवधी का विकास’ नाम से)

उदय नारायण तिवारी (1903-1984 ई०)-

ऑरिजिन एण्ड डेवलपमेण्ट ऑफ भोजपुरी (अंग्रेजी भाषा में, 1946 ई०; हिन्दी में अनुवाद- ‘भोजपुरी भाषा का उद्गम और विकास’ नाम से)

फादर कामिल बुल्के (1909-1982 ई०)-

रामकथा : उत्पत्ति और विकास (हिन्दी भाषा में प्रस्तुत हिन्दी का प्रथम शोध-प्रबंध, 1949 ई०)

नामवर सिंह (जन्म-1927 ई०)-

हिन्दी के विकास में अपभ्रंश का योग (हिन्दी भाषा में, 1952 ई०)

प्रातिक्रिया दे