विश्व की भाषाएँ एवं वर्गीकरण

हिन्दी साहित्य

विश्व की भाषाएँ एवं वर्गीकरण आपस में सम्बंधित भाषाओं को भाषा-परिवार कहते हैं। भाषाओं की तीन अवस्थाएँ इस समय संसार की भाषाओं की तीन अवस्थाएँ हैं। विभिन्न देशों की प्राचीन भाषाएँ जिनका अध्ययन और वर्गीकरण पर्याप्त सामग्री के अभाव में नहीं हो सका है, पहली अवस्था में है। इनका अस्तित्व इनमें उपलब्ध प्राचीन शिलालेखो, सिक्कों और हस्तलिखित पुस्तकों में अभी … Read more

देवनागरी लिपि

प्राचीन नागरी लिपि का प्रचार उत्तर भारत में नवीं सदी के अंतिम चरण से मिलता है, यह मूलत: उत्तरी लिपि है, पर दक्षिण भारत में भी कुछ स्थानों पर आठवीं सदी से यह मिलती है। दक्षिण में इसका नाम नागरी न होकर नंद नागरी है। आधुनिक काल की नागरी या देवनागरी, गुजराती, महाजनी, राजस्थानी तथा … Read more

हिन्दी की बोलियाँ

hindi sahitya notes

हिन्दी की बोलियाँ (उपभाषाएँ) हैं जिनमें अवधी, ब्रजभाषा, कन्नौजी, बुंदेली, बघेली, हड़ौती,भोजपुरी, हरयाणवी, राजस्थानी, छत्तीसगढ़ी, मालवी, नागपुरी, खोरठा, पंचपरगनिया, कुमाउँनी, मगही आदि प्रमुख हैं। इनमें से कुछ में अत्यन्त उच्च श्रेणी के साहित्य की रचना हुई है। ऐसी बोलियों में ब्रजभाषा और अवधी प्रमुख हैं। पश्चिमी हिन्दी पश्चिमी हिन्दी का विकास शौरसेनी अपभ्रंश से हुआ है। इसके अंतर्गत पाँच … Read more

हिंदी की व्युत्पत्ति

hindi sahitya notes

हिंदी की व्युत्पत्ति हिन्दी शब्द का सम्बंध संस्कृत शब्द ‘सिन्धु’ से माना जाता है। यह सिन्धु शब्द ईरानी में जाकर ‘हिन्दू’, हिन्दी और फिर ‘हिन्द’ हो गया। बाद में ईरानी धीरे-धीरे भारत के अधिक भागों से परिचित होते गए और इस शब्द के अर्थ में विस्तार होता गया तथा ‘हिन्द’ शब्द पूरे भारत का वाचक … Read more

भारतीय आर्य भाषाएँ

हिन्द-आर्य भाषाएँ हिन्द-यूरोपीय भाषाओं की हिन्द-ईरानी शाखा की एक उपशाखा हैं, जिसे ‘भारतीय उपशाखा’ भी कहा जाता है। इनमें से अधिकतर भाषाएँ संस्कृत से जन्मी हैं। हिन्द-आर्य भाषाओं में आदि-हिन्द-यूरोपीय भाषा के ‘घ’, ‘ध’ और ‘फ’ जैसे व्यंजन परिरक्षित हैं, जो अन्य शाखाओं में लुप्त हो गये हैं। इस समूह में यह भाषाएँ आती हैं … Read more

हिन्दी कहानी का विकास

hindi sahitya notes

विषय — हिन्दी कहानी का विकास Q.1 हिन्दी कहानी का उद्भव किस युग से माना जाता है (अ)प्रसाद युग(ब)प्रसादोत्तर युग (स) शुक्ल युग(द)शुक्लोत्तर युग✔Q.2 दामुल का कैदी कहानी के लेखक हैं ?(अ)यशपाल (ब)प्रेमचन्द (स)जयशंकर प्रसाद (द)धर्मवीर भारतीQ.3 पत्नी कहानी के लेखक हैं?(अ)भीष्म साहनी (ब)इला चन्द्र जोशी (स)जैनेंद्र (द)सुदर्शनQ.4 हिन्दी का कौन सा कहानीकार ‘नवाबराय’ के … Read more

भाषा विज्ञान के अध्ययन की पद्धतियां

भाषा विज्ञान के अध्ययन की पद्धतियां भाषा विज्ञान के अध्ययन के चार पद्धतियां मुख्य रूप से प्रचलित है। वर्णनात्मक भाषा विज्ञान वर्णनात्मक भाषा विज्ञान के अंतर्गत किसी विशिष्ट काल की किसी एक विशेष भाषा का अध्ययन किया जाता है। भाषा की वर्णात्मक समीक्षा करते हुए भाषा की ध्वनि , संरचना तथा शुद्ध – अशुद्ध रूपों … Read more

विश्व हिन्दी सम्मेलन(World Hindi Conference)

विश्व हिन्दी सम्मेलन का उद्देश्य उद्देश्य : UNO की भाषाओं में हिन्दी को स्थान दिलाना व हिन्दी का प्रचार-प्रसार करना। क्रम तिथि आयोजन स्थल पहला 10-14 जनवरी, 1975 नागपुर (भारत); अध्यक्ष-शिवसागर राम गुलाम (मारिशस के तत्कालीन राष्ट्रपति), उद्घाटन-इंदिरा गाँधी दूसरा 28-30 अगस्त, 1976 पोर्ट लुई (मारिशस) तीसरा 28-30 अक्टूबर, 1983 नई दिल्ली (भारत) चौथा 02-04 दिसम्बर, … Read more

हिन्दी भाषा के मानकीकरण की दिशा में उठाये गए महत्वपूर्ण कदम

हिन्दी भाषा के मानकीकरण की दिशा में उठाये गए महत्वपूर्ण कदम   (1) राजा शिवप्रसाद ‘सितारे-हिन्द’ ने क ख ग ज फ पाँच अरबी-फारसी ध्वनियों के लिए चिह्नों के नीचे नुक्ता लगाने का रिवाज आरंभ किया। (2) भारतेन्दु हरिश्चन्द्र ने ‘हरिश्चन्द्र मैगजीन’ के जरिये खड़ी बोली को व्यावहारिक रूप प्रदान करने का प्रयास किया। (3) … Read more

error: Content is protected !!