मत्स्येन्द्रनाथ का साहित्यिक परिचय

मत्स्येन्द्रनाथ अथवा मचिन्द्रनाथ 84 महासिद्धों (बौद्ध धर्म के वज्रयान शाखा के योगी) में से एक थे। वो गोरखनाथ के गुरु थे जिनके साथ उन्होंने हठयोग विद्यालय की स्थापना की। उन्हें संस्कृत में हठयोग की प्रारम्भिक रचनाओं में से एक कौलजणाननिर्णय के लेखक माना जाता है।

गोरखनाथ को उनके सबसे सक्षम शिष्यो मे माना जाता है।

प्रातिक्रिया दे