गजानन माधव मुक्तिबोध का साहित्यिक परिचय

गजानन माधव मुक्तिबोध का साहित्यिक परिचय इस पोस्ट से जानेंगे.

गजानन माधव मुक्तिबोध का साहित्यिक परिचय
gajanan madhav muktibodh
gajanan madhav muktibodh

साहित्यिक परिचय

  • गजानन माधव ‘मुक्तिबोध’ (१३ नवंबर १९१७-११ सितंबर १९६४) 
  • प्रगतिशील काव्यधारा के कवि थे। 
  • मुक्तिबोध कहानीकार भी थे और समीक्षक भी।  
  • उन्होंने १९५३ में साहित्य रचना का कार्य प्रारम्भ किया 
  • सन १९३९ में शांता जी से प्रेम विवाह किया। 
  • १९४२ के आस-पास वे वामपंथी विचारधारा की ओर झुके ।
  • उन्होंने ‘वसुधा’, ‘नया खून’ आदि पत्रों में संपादन-सहयोग भी किया।

रचनाएँ :-

उनकी रचनायें हैं; 

  • कविता संग्रह : चाँद का मुँह टेढ़ा है, भूरी भूरी खाक धूल तथा तारसप्तक में रचनाएं; 
  • कहानी संग्रह : काठ का सपना, विपात्र, सतह से उठता आदमी; 
  • उपन्यास: विपात्र; 
  • आलोचना : कामायनी : एक पुनर्विचार, नई कविता का आत्मसंघर्ष, नए साहित्य का सौंदर्यशास्त्र, समीक्षा की समस्याएँ; 
  • आत्माख्यान: एक साहित्यिक की डायरी;
  •  इतिहास : भारत : इतिहास और संस्कृति; 
  • रचनावली : मुक्तिबोध रचनावली (सात खंड) । 

प्रातिक्रिया दे