विनय-पत्रिका पद का शब्दार्थ सहित व्याख्या

tulsidas

विनय-पत्रिका- श्रीगणेश-स्तुति का शब्दार्थ सहित व्याख्या
राग बिलावल

कवितावली कविता का केंद्रीय भाव

कवितावली कविता का केंद्रीय भाव कवितावली गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित काव्य है। कवितावली में श्री रामचन्द्र के इतिहास का वर्णन कवित्त, चौपाई, सवैया आदि छंदों में की किया है। रामचरितमानस के जैसे ही कवितावली में भी सात काण्ड हैं। ये छन्द ब्रजभाषा में लिखे गये हैं और इनकी रचना प्राय: उसी परिपाटी पर की गयी है जिस परिपाटी … Read more

गोस्वामी तुलसीदास का साहित्यिक परिचय

गोस्वामी तुलसीदास हिन्दी साहित्य के महान सन्त कवि थे। रामचरितमानस इनका गौरव ग्रन्थ है। इन्हें आदि काव्य रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मीकि का अवतार भी माना जाता है। तुलसीदास जी रामानंदी के बैरागी साधु थे। जन्म अधिकांश विद्वान तुलसीदास का जन्म स्थान राजापुर को मानने के पक्ष में हैं।  यद्यपि कुछ इसे सोरों शूकरक्षेत्र भी मानते हैं।  आत्माराम दुबे नाम … Read more

error: Content is protected !!