अम्ल क्षार एवं लवण कक्षा 7 विज्ञान पाठ 4

अम्ल क्षार एवं लवण कक्षा 7 विज्ञान पाठ 4

स्मरणीय तथ्य

1.अम्ल—ये रासायनिक पदार्थ जो स्वाद में खट्टे हों तथा मेले लिटमस को लाल कर देते हों, अम्ल कहलाते हैं।

2. क्षार—बे रासायनिक पदार्थ जो स्पर्श करने पर चिकने हों तथा लाल लिटमस को नीला कर देते हैं, क्षार कहलाते हैं।

3. लवण-अम्ल की क्षार के साथ क्रिया करने पर बनने वाला पदार्थ लवण कहलाता है।

4. उदासीनीकरण— अम्ल एवं क्षार की परस्पर क्रिया होकर लवण तथा जल का बनना उदासीनीकरण कहलाता है।

5. सूचक – रंग परिवर्तित कर अम्लीय या क्षारीय माध्यम की सूचना देने वाले पदार्थों को सूचक कहते हैं।

6. सिरका एसीटिक अम्ल को कहते हैं।

7. नीबू, संतरा में साइट्रिक अम्ल तथा इमली में टार्टरिक अम्ल होता है।

8. पेट में अम्लीयता बढ़ जाने पर मिल्क ऑफ मैग्नीशिया लिया जाता है जो मैग्नीशियम हाइड्रॉक्साइड होता है।

9. लिटमस पेपर एक रासायनिक पेपर है जिसका उपयोग अम्ल एवं क्षार के परीक्षण में किया जाता है।

10. फिनॉल्फ्थलीन एवं मिथाइल ऑरेंज का उपयोग अम्ल-क्षार सूचक के रूप में किया जाता है।

।। चोटी के काटने पर जलन फॉर्मिक अम्ल के कारण होती है।

12. ऐसे अम्ल जो प्राणियों एवं वनस्पतियों में प्राकृतिक रूप में पाये जाते हैं, प्राकृतिक अम्ल कहलाते हैं।

13. हम भूमि से प्राप्त खनिजों से भी अम्ल प्राप्त करते हैं। इन्हें खनिज अम्ल कहते हैं।

14 अम्ल में अधिक मात्रा में पानी मिला हो तो उसे तनु अम्ल एवं यदि शुद्ध अम्ल में पानी की मात्रा कम तो उसे सान्द्र अम्ल कहते

15. अम्ल धातुओं के कार्बनटों व बाइकार्बनटों के साथ क्रिया करके कार्बन डाइऑक्साइड बनाते हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.