hindi sahitykar ka parichay

सुमित्रानंदन पन्त का साहित्यिक परिचय

हिंदी साहित्य में छायावादी युग के चार प्रमुख स्तंभों में से एक हैं। पन्त का जीवन परिचय सुमित्रानन्दन पन्त का जन्म बागेश्वर ज़िले के कौसानी नामक ग्राम में 20 मई 1900 ई॰ को हुआ। उनका नाम गोसाईं दत्त रखा गया महात्मा गाँधी के सान्निध्य में उन्हें आत्मा के प्रकाश का अनुभव हुआ। १९३८ में प्रगतिशील …

सुमित्रानंदन पन्त का साहित्यिक परिचय Read More »