हिंदी साहित्य के उपन्यासकार

हिंदी साहित्य के उपन्यासकार

उपन्यासकारउपन्यास
श्रद्धाराम फिल्लौरीभाग्यवती
लाला श्रीनिवासदासपरीक्षागुरू
बालकृष्ण भट्टनूतन ब्रह्मचारी, सौ अजान एक सुजान
भारतेंदु हरिश्चंद्रपूर्ण प्रकाश, चंद्रप्रभा
देवकीनंदन खत्रीचंद्रकांता, नरेंद्रमोहिनी, वीरेंद्रवीर अथवा कटोरा भर खून, कुसुमकुमारी, चंद्रकांता संतति, भूतनाथ
मेहता लज्जाराम शर्माधूर्त रसिकलाल, स्वतंत्र रमा और परतंत्र लक्ष्मी, हिंदू गृहस्थ, आदर्श दम्पति, सुशीला विधवा, आदर्श हिंदू
किशोरीलाल गोस्वामीप्रणयिनी-परिणय, त्रिवेणी, लवंगलता, लीलावती, तारा, चपला, मल्लिकादेवी वा बंगसरोजिनी अँगूठी का नगीना, लखनऊ की कब्रा वा शाही महलसरा
गोपालराय गहमरीअदभुत लाश, अदभुत खून, खूनी कौन
‘हरिऔध’ठेठ हिंदी का ठाठ, अधखिला फूल
जनमोहन सिंहश्यामा स्वप्न
पंडित गौरीदत्तदेवरानी-जेठानी की कहानी
सियारामशरण गुप्तगोद, नारी, अंतिम आकांक्षा
शिवपूजन सहायदेहाती दुनिया
ऋषभचरण जैनदिल्ली का कलंक, दिल्ली का व्यभिचार, वेश्यायुग, रहस्यमयी
भवानीप्रसादपतिता की साधना, चंदन और पानी, त्यागमयी
प्रेमचंदप्रेमा, सेवासदन, वरदान, प्रेमाश्रम, कायाकल्प, रंगभूमि, निर्मला, प्रतिज्ञा, गबन, कर्मभूमि, गोदान, मंगलसूत्र (अपूर्ण)
जयशंकर प्रसादकंकाल, तितली, इरावती (अधूरा)
‘निराला’अप्सरा, अलका, प्रभावती, निरूपमा, चोटी की पकड़, काले कारनामे
पंतहार
राधिकारमण प्रसाद सिंहराम-रहीम
इलाचंद्र जोशीपर्दे की रानी, घृणामयी, सन्यासी, प्रेत और छाया, मुक्तिपथ, जिप्सी, जहाज का पंछी, ऋतुचक्र, सुबह के भूले, भूत का भविष्य
जैनेंद्रपरख, त्यागपत्र, कल्याणी, सुनीता, सुखदा, मुक्तिबोध
यशपालदिव्या, अमिता, झूठा-सच (दो भाग), दादा कामरेड, मनुष्य के रूप, मेरी तेरी उसकी बात, बारह घंटे
‘अश्क’गिरती दीवारें, शहर में घूमता आइना, सितारों का खेल, बड़ी-बड़ी आँखें, गरम राख, एक नन्ही कंदील, पत्थर-अल-पत्थर
अमृतलाल नागरसुहाग के नूपुर, शतरंज के मोहरे, करवट, नाच्यौ बहुत गोपाल, अमृत और विष, बूँद और समुद्र, मानस का हंस, नवाबी मसनद, सेठ बाँकेमल, बिखरे तिनके, महाकाल, भूख, एकदा नैमिषारण्ये, खंजन नयन, करवट
उदयशंकर भट्टसागर लहरें और मनुष्य, डॉ० शेफाली, शेष-अशेष, लोक-परलोक, नए मोड़, एक नीड़ दो पंछी, दो अध्याय
भगवतीचरण वर्माचित्रलेखा, सबहिं नचावत राम गोसाई, तीन वर्ष, भूले बिसरे चित्र, टेढ़े-मेढ़े रास्ते, सीधी-सच्ची बातें, सामर्थ्य और सीमा, आखिरी दाँव
वृंदावनलाल वर्मामृगनयनी, झाँसी की रानी, गढ़ कुण्डार, विराटा की पद्यिनी, अहिल्याबाई
आचार्य चतुरसेन शास्त्रीवैशाली की नगरवधू, धर्मयुग, अपराजिता, नरमेध, मंदिर की नर्तकी, हृदय की परख, हृदय की प्यास, वयं रक्षामः, आत्मदाह
राहुल सांकृत्यायनसिंह सेनापति, जय यौधेय, वोल्गा से गंगा तक, किन्नरों के देश में, शैतान की आँखें, मधुर स्वप्न
हजारी प्रसाद द्विवेदीबाणभट्ट की आत्मकथा, अनामदास का पोथा, चारुचंद्रलेख, पुनर्नवा
‘उग्र’दिल्ली का दलाल, चाकलेट, बुधुआ की बेटी, शराबी, चंद हसीनों के खतूत, फागुन के दिन चार
रांगेय राघवमुर्दो का टीला, कब तक पुकारूँ, मेरी भवबाधा हरो, विषादमय, लखिमा की आँखें, देवकी का बेटा, यशोधरा जीत गई, अँधेरे के जुगनू
‘रेणु’मैला आँचल, जुलूस, कितने चौराहे, परती परिकथा, पल्टू बाबू रोड (मरणोपरांत प्रकाशित)
नागार्जुनबलचनमा, रतिनाथ की चाची, नई पौध, उग्रतारा, बाबा बटेसरनाथ, वरुण के बेटे, दुखमोचन, कुंभीपाक
राजेंद्र यादवसारा आकाश, उखड़े हुए लोग, शह और मात, मंत्रबिद्ध, अनदेखे अनजान पुल
धर्मवीर भारतीगुनाहों का देवता, सूरज का सातवाँ घोड़ा
‘अज्ञेय’शेखर एक जीवनी, नदी के द्वीप, अपने-अपने अजनबी
‘मुक्तिबोध’विपात्र
डॉ० द्वारका प्रसादघेरे के बाहर, मम्मी बिगड़ेगी
विष्णु प्रभाकरनिशिकांत, तट के बंधन, अर्द्धनारीश्वर, स्वप्नमयी
नरेश मेहताप्रथम फाल्गुन, डूबते मस्तूल, धूमकेतु, नदी यशस्वी है, यह पथबंधु था, उत्तरकथा
रामेश्वर शुक्ल ‘अंचल’चढ़ती धूप, नयी इमारत, उल्का, मरुप्रदीप
कमलेश्वरएक सड़क 57 गलियाँ, लौटे हुए मुसाफिर, डाक बँगला, काली आँधी, समुद्र में खोया हुआ आदमी, सुबह दोपहर शाम, तीसरा आदमी, एक और चन्द्रकान्ता, कितने पाकिस्तान
प्रभाकर माचवेपरंतु, साया, द्वाभा, दर्द के पैवंद
मोहन राकेशअँधेरे बंद कमरे, न आने वाला कल, नीली बाँहों की रोशनी में, काँपता हुआ दरिया, कई एक अकेले, अंतराल
निर्मल वर्मावे दिन, लाल टीन की छत, रात का रिपोर्टर, एक चिथड़ा सुख, अंतिम अरण्य
मन्नू भंडारीमहाभोज, आपका बंटी, एक इंच मुसकान (सहयोगी लेखक राजेंद्र यादव)
मार्कण्डेयसेमल का फूल
उषा प्रियंवदापचपन खम्भे लाल दीवारें, रुकोगी नहीं राधिका
सर्वेश्वरसोया हुआ जल, पागल कुत्तों का मसीहा, अँधेरे पर अँधेरा, उड़ते हुए रंग
भीष्म साहनीतमस, झरोखे, कड़ियाँ, बसंती, मय्यादास की माड़ी
शरतचंद्रदेवदास, श्रीकांत, चरित्रहीन, गृहदाह, परिणीता, पथ के दावेदार
नरेंद्र कोहलीदीक्षा, अवसर, युद्ध की ओर, अभिज्ञान
शानीकाला जल, साँप और सीढ़ी, नदियाँ और सीपियाँ
राही मासूम रजाआधा गाँव, सीन-75, असंतोष के दिन, ओस की बूँद, नीम का पेड़, कटरा बी आर्जू
श्रीलाल शुक्लराग दरबारी, सीमाएँ टूटती हैं आदमी का जहर, अज्ञातवास
हरिशंकर परसाईरानी नागमती की कहानी,तट की खोज
लक्ष्मीकांत वर्माटेराकोटा, खाली कुर्सी की आत्मा, एक कटा हुआ कागज, कोयल और आवृत्तियाँ
श्रीकांत वर्मादूसरी बार
राजकमल चौधरीमछली मरी हुई, एक अनार एक बीमार, शहर था- शहर नहीं था
लक्ष्मी नारायण लालबड़ी चंपा छोटी चंपा, मन वृंदावन, काले फूले का पौधा, हरा समंदर-गोपी चंदर, धरती की आँखें, रूपाजीवा, प्रेम अपवित्र नदी
मनोहर श्याम जोशीकुरु-कुरु स्वाहा, कसप, नेता जी कहिन, क्या
देवराजपथ की खोज, अजय की डायरी, मैं, वे और आप, रोड़े और पत्थर
कृष्णा सोबतीसूरजमुखी अँधेरे के, जिंदगीनामा, हम हशमत, मित्रो मरजानी, यारों के यार, डार से बिछुड़ी, दिलो दानिश
महेंद्र भल्लाएक पति के नोट्स
गिरिराज किशोरयथा प्रस्तावित, ढाई घर, चिड़ियाघर, साहब, मात्राएँ
मणि मघुकरसफेद मेमने, मेरी स्त्रियाँ, खुले हुए दरीचे
मंजुल भगतअनारो, लेडी क्लब
दुष्यंत कुमारछोटे-छोटे सवाल, दोहरी जिंदगी, आँगन में एक वृक्ष
शैलेश मटियानीसर्पगंधा, मुठभेड़, आकाश कितना अनंत है, डेरेवाले, बावन नदियों का संगम, चंद औरतों का शहर, किस्सा नर्मदा बेन गंगूबाई, बोरीबली से बोरीबंदर तक, उगते सूरज की किरण
भैरव प्रसाद गुप्तगंगा मैया, सत्ती मैया का चौरा
शिवप्रसाद सिंह ‘रुद्र’बहती गंगा, अलग-अलग वैतरणी
देवेंद्र सत्यार्थीरथ के पहिए, कठपुतली, दूधगाछ, ब्रह्मपुत्र
विमल मित्रहम चाकर रघुनाथ के, कैसे-कैसे सच, मन क्यों उदास है, मुजरिम हाजिर
जगदंबा प्रसाद दीक्षितमुर्दाधर
रघुवंशअर्थहीन
बदी उज्जमांएक चूहे की मौत, सभापर्व, छाको की वापसी

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!