सजीवों में उत्सर्जन कक्षा 7 विज्ञान पाठ 14

सजीवों में उत्सर्जन कक्षा 7 विज्ञान पाठ 14

1. अपशिष्ट पदार्थ—जैविक क्रियाओं के फलस्वरूप शरीर में बने अनुपयोगी पदार्थों को अपशिष्ट पदार्थ कहते हैं।

2. उत्सर्जन- अपशिष्ट पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने की क्रिया को उत्सर्जन कहते हैं।

3. वृक्क, मूत्रवाहिनी, मूत्राशय तथा मूत्रमार्ग मिलकर उत्सर्जन तंत्र का निर्माण करते हैं।

4. यकृत में अमोनिया को यूरिया में बदल दिया जाता है।

5. वृक्क रक्त में से अपशिष्ट पदार्थों को छानने का कार्य करता है।

6. शुष्क वातावरण में रहने वाले जन्तु यूरिक अम्ल का उत्सर्जन ठोस रूप में करते हैं।

7. सरल सूक्ष्म जीवों में उत्सर्जन कोशिकाओं की सतह से विसरण विधि द्वारा होता है।

8. जन्तुओं में उत्सर्जन क्रिया के लिए विशेष अंग होते हैं, किन्तु पौधों में नहीं होते।

9. कुछ पौधों में अपशिष्ट पदार्थ पत्तियों, छाल तथा तना आदि में संग्रहित हो जाते हैं।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

error: Content is protected !!